Sukanya samriddhi yojna क्या है?

भारत सरकार ने लड़कियों के भविष्य को उज्जवल बनाने के लिए बहुत सारी योजनाएं शुरू की है जिसमें से एक योजना sukanya samriddhi yojna है।

Sukanya samriddhi yojna कब शुरू की गई। 

 इसकी शुरुआत 3 दिसंबर सन 2014 को तथा इसका प्रकाशन राज्य पत्र के द्वारा किया। बेटियों के लिए बचत प्रोत्साहन देने के लिए सुकन्या समृद्धि खाता खोला जाता है।

सुकन्या समृद्धि खाता किसी भी बैंक या डाकघर में खोला जा सकता है। sukanya samriddhi account खोलने की न्यूनतम उम्र जन्म से तथा अधिकतम उम्र 10 साल तक है।

Sukanya samriddhi अकाउंट कहा खोले? 

सुकन्या समृद्धि खाता में प्रतिवर्ष अधिकतम डेढ़ लाख रुपए जमा कर सकते हैं तथा इसका खाता को खोलते समय ₹250 न्यूनतम राशि जमा करनी होती है।

Sukanya samriddhi account में कितने रुपए जमा कर सकते है? 

इसमें प्रत्येक परिवार में एक ही बेटी का खाता खोला जा सकता है खाता खोलने की अधिकतम आयु सीमा 10 वर्ष तक मान्य है।

Sukanya samriddhi yojna कितनी बेटियों के लिए मान्य है? 

एक से अधिक बच्चियां जन्म लेते हैं तो उनका जन्म प्रमाण पत्र जुड़वा होना आवश्यक है। दो बच्चियों का जन्म एक साथ होता है तो दोनों बच्चियों का जॉइंट खाता खुलवाया 

जुड़वाँ बच्चे पैदा होने पर क्या होगा? 

सुकन्या समृद्धि खाता में पैसा बेटी की उच्च शिक्षा तथा उसकी शादी के लिए जमा किया जाता है। सुकन्या समृद्धि योजना बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ कार्यक्रम के अंतर्गत आती है।

सुकन्या समृद्धि योजना का लाभ क्या है?

इस खाते में भारत सरकार द्वारा 7.6% की दर से ब्याज दिया जाता है। इस खाते में भारत सरकार इनकम टैक्स की भी छूट देती है।

पैसे पर कितने परसेंट ब्याज मिलता है?

इस खाते में बेटी की उम्र 21 वर्ष होने तक पैसा जमा किया जाता है। यदि बेटी 18 वर्ष की हो जाती है तब उसकी उच्च शिक्षा के लिए 50% पैसा निकाला जा सकता है।

सुकन्या अकाउंट से पैसा कब निकाल सकते है?

सुकन्या समृद्धि योजना के बारे में पूरी जानकारी लेने के लिए हमारी वेबसाइट पर जाये। 

Read more

sukanya samriddhi yojna